भविष्य में गैस कीमतों में कमी आएगी: पीयूष गोयल
8/12/2016
NationalDuniya

नई दिल्ली: केंद्रीय बिजली, कोयला, नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) पीयूष गोयल ने बुधवार को कहा कि गैस आधारित बिजली संयंत्रों की दक्षता से भविष्य में गैस की कीमतों में कमी आएगी.गोयल ने कहा कि रियायती और लगातार बिजली उपलब्ध कराने के लिए ऊर्जा संपन्न राष्ट्रों के साथ भागीदारी और नई तकनीक के साथ सर्वोत्तम कार्यो का आदान-प्रदान करना जरूरी है.पेट्रोटेक-2016 के दौरान भविष्य का ईंधन हाइड्रोकार्बन : विकल्प और चुनौतियों पर आयोजित एक मंत्रिस्तरीय सत्र की अध्यक्षता करते हुए पीयूष गोयल ने कहा कि पेट्रोटेक-2016 ने एक तरफ नए व्यापार संबंधों के निर्माण और विश्व के सर्वोत्कृष्ट कार्यो एवं विशेषज्ञता के आदन-प्रदान करने का मंच तथा दूसरी ओर इस क्षेत्र के अत्याधुनिक तकनीक के लिए महत्वपूर्ण बैठक स्थल स्थापित किया है.गोयल ने कहा कि 12वें अंतर्राष्ट्रीय तेल एवं गैस सम्मेलन में तेल उत्पादक और निर्यातक देशों तथा तेल और गैस सेक्टर में इतनी बड़ी भगीदारी को देख कर उन्हें हार्दिक खुशी हो रही है.उन्होंने कहा, भारत सरकार जीवाश्म ईंधन के आयात पर अपनी निर्भरता को कम करने तथा तेल एवं गैस के क्षेत्र में आत्मनिर्भर बनने के लिए समग्र ढांचा तैयार कर रही है. इस मामले में कोई भी नीति परिवर्तन भारत की पेरिस जलवायु सम्मेलन में जीडीपी की तुलना में कार्बन घनत्व को कम करने के लक्ष्य के अनुसार ही होगा.भारत द्वारा कार्बन फूटप्रिंट को कम करने के लिए की गई पहलों के बारे में उन्होंने कहा, इस समय भारत ने अपने कुल पुराने सीएफएल का एक तिहाई भाग को एलईडी में बदल दिया है. इससे एक साल में 8 करोड़ टन कार्बन के उत्सर्जन को कम करने और पीक आवर में 20 जी डब्ल्यू ऊर्जा बचाने में मदद मिली है.गोयल ने कहा, बिजली एवं पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्रालय के बीच भागीदारी को भारत में ऊर्जा के सुनिश्चित भविष्य की प्राप्ति की दिशा में काफी लाभ मिला है. पेट्रोटेक-2016 में भाग लेने वाले हितधारकों के बीच इस तरह की हिस्सेदारी का विस्तार किया जा सकता है ताकि आने वाले दिनों में इसका सकारात्मक परिणाम मिल सके.इस सत्र में चॉड के पेट्रोलियम एवं ऊर्जा मंत्री बेचिर मेडिट, दक्षिण सूडान के पेट्रोलियम एवं ऊर्जा मंत्री एजकिल गैटकौथ, सूडान के पेट्रोलियम एवं गैस मंत्री डॉ. मोहम्मद जायद अवाद, उगांडा की पेट्रोलियम एंव ऊर्जा मंत्री इरने मुलोनी और कोलंबिया की राष्ट्रीय हाइड्रोकार्बन एजेंसी के अध्यक्ष डॉ. ओरनॉडो वेलांडिया मौजूद थे. इस सत्र का संचालन बॉस्टन सलाहकार समूह ने किया.

 
Comment
Comment:
Email ID:
Posted By :
Location:
     
 
अन्य खबरें