मुख्यमंत्री अखिलेश यादव को राहत, नहीं दर्ज होगा कोई केस
26/1/2017
NationalDuniya

मुख्यमंत्री अखिलेश यादव व तीन सपा नेताओं के खिलाफ दर्ज हुए आचार संहिता उल्लंघन के मामले को कोर्ट ने वापस लेने की स्वीकृति प्रदान कर दी। एक साल पूर्व राज्य सरकार ने जनहित में यह मामला वापस लेने का निर्णय लिया था। अभियोजन पक्ष के आवेदन पर कोर्ट ने स्वीकृति दे दी है।वर्ष 2007 में विधानसभा चुनाव के दौरान सपा प्रत्याशी प्रमोद त्यागी की जनसभा को सम्बोधित करने के लिए मुख्यमंत्री अखिलेश यादव, राजकुमार यादव, शाहिद अखलाक व संजय सिंह आये। आचार संहिता का उल्लंघन के मामले में सभी के खिलाफ खतौली थाने में रिपोर्ट दर्ज करायी गयी थी। यह मामला तभी कोर्ट में लम्बित चल रहा था। अखिलेश यादव के मुख्यमंत्री बनने के बाद राज्य सरकार ने इस मामले पर संज्ञान लिया। एक वर्ष पूर्व जनहित में राज्य सरकार ने इस मामले को वापस लेने का निर्णय लिया था। हालांकि कोर्ट ने इस मामले में पर मोहर नहीं लगायी थी। हाल में यह मामले में एसीजेएम द्वितीय की कोर्ट में लम्बित चल रहा था। चुनाव आचार संहिता लगने से पूर्व इस मामले को वापस लिये जाने की स्वीकृति प्रदान करने के लिए अभियोजन पक्ष ने कोर्ट से प्रार्थना की थी। कोर्ट ने अर्जी पर सुनवाई करते हुए चुनाव आचार संहिता के उल्लंघन के मामले को वापस लेने के स्वीकृति प्रदान कर दी है। मुख्यमंत्री अखिलेश यादव, तत्कालीन सपा प्रत्याशी प्रमोद त्यागी, राजकुमार, शाहिद अखलाक को राहत दी है। विचाराधीन मामले के दौरान नामजद रहे संजय सिंह की मृत्यु हो चुकी है

 
Comment
Comment:
Email ID:
Posted By :
Location:
     
 
अन्य खबरें