बिना काम पूरा हुए निगम अधिकारियों ने कर दिया करोडों का भुगतान
5/3/2017
NationalDuniya

नगरीय सड़क सुधार योजना के तहत बनी शहर की दो सड़कों की टीएसी (टेक्निकल ऑडिट सेल) से जांच होगी। आरोप है कि इन दोनों सड़कों का काम पूरा किए बगैर निगम के अधिकारियों ने सात करोड़ रुपये से ज्यादा का भुगतान कर दिया। महापौर अशु वर्मा ने मंडलायुक्त को पत्र लिखकर दोनों स़ड़कों की जांच कराने की मांग की है।महापौर अशु वर्मा ने बताया कि उनके संज्ञान में आया है कि कविनगर जोन में शास्त्री नगर में राज गैस एजेंसी से डायमंड फ्लाइओवर तक सड़का चौडीकरण, सुदृढीकरण, डिवाइडर निर्माण व इंटरलॉकिंग लगाने का कार्य होना था। इस कार्य को करीब 3 करोड 20 लाख रुपये में किया जाना था। इस सड़क पर पूरा कम हुआ नहीं और निगम अधिकारियों ने ठेकेदार को तीन करोड़ के लगभग भुगतान कर दिया। इस मामले की जांच लोकायुक्त भी करा रहे हैं। इसके साथ ही मामले को लेकर समाजसेवी वेदप्रकाश अग्रवाल के द्वारा हाईकोर्ट में भी रिट दायर की जा चुकी है।वहीं दूसरा मामला शास्त्री नगर चौक से कार्टे होते हुए हापुड रोड़ तक की सड़क का है। इस सड़क पर भी बिना काम पूरा किए निगम अधिकारियों ने करीब साढ़े चार करोड़ का भुगतान कर दिया। दोनों ही सड़क का निर्माण वित्त वर्ष 2014-15 में कराया गया था। महापौर का कहना है कि उनके संज्ञान में अभी कई मामले आए हैं। वह उनकी सच्चाई का पता लगवा रहे हैं।

 
Comment
Comment:
Email ID:
Posted By :
Location:
     
 
अन्य खबरें