सैफुल्लाह एनकाउंटरः यूपी पुलिस की बयानबाजी से केंद्र सरकार नाखुश
9/3/2017
NationalDuniya

केंद्र सरकार आतंकी सैफुल्ला के मामले में यूपी पुलिस की बयानबाजी से नाखुश है। सूत्रों के अनुसार, केंद्रीय गृह मंत्रालय ने लखनऊ में मुठभेड़ के बीच में ही यूपी पुलिस द्वारा आईएस का नाम लेकर की गई बयानबाजी को ठीक नहीं माना है। मंत्रालय का मानना है कि आईएस का मामला बेहद गंभीर है और पूरी जांच के बाद ही कुछ कहना चाहिए।

मंत्रालय से जुड़े सूत्रों का कहना है कि आतंकी सैफुल्ला आईएस के संपर्क में था या नहीं इस मामले में जांच के आधार पर ही किसी निष्कर्ष पर पहुंचा जा सकता है। हालांकि, सैफुल्ला आतंकी गतिविधियों में शामिल था, इस पर संदेह नहीं किया जा सकता।

गृहमंत्रालय ने देशभर में आतंक के नए खतरे को पनपने से रोकने के लिए केंद्रीय तथा राज्यों की एजेंसियों को तय मानक प्रक्रिया (एसओपी) का पालन कर त्वरित कार्रवाई करने को कहा है। सुरक्षा एजेंसियों को कहा गया है कि वे खुफिया सूचनाओं का बारीकी से विश्लेषण करके आतंकी गतिविधियों को रोकने के लिए साझा एक्शन प्लान पर काम करें।सैफुल्लाह के तार ISIS से जुडे थे, इसका कोई सबूत नहीं: यूपी पुलिस

एनआईए जांच पर विचार
गृहमंत्रालय ने मध्य प्रदेश और यूपी की घटना के बाद देशभर में एजेंसियों को अलर्ट किया है। लखनऊ व मध्य प्रदेश की घटना की जांच एनआईए को सौंपने पर भी विचार हो रहा है, जिससे साजिश का सही पता लगाया जा सके। लखनऊ में एनआईए की एक टीम पहले से मौजूद है। उत्तर प्रदेश सरकार से एफआईआर की कापी मिलने के बाद जांच पर केंद्र सरकार फैसला करेगी।

 
Comment
Comment:
Email ID:
Posted By :
Location:
     
 
अन्य खबरें