जेवर एयरपोर्ट 10 शहरों के लिए उड़ान का दरवाजा होगा
11/4/2017
NationalDuniya

जेवर एयरपोर्ट के बनने से 150 किलोमीटर के दायरे में बसे 10 शहरों को सीधा फायदा मिलेगा। यह ग्रेटर नोएडा, नोएडा, मेरठ, बुलंदशहर, आगरा, बरेली और अलीगढ़ तक के लोगों के लिए दिल्ली के इंदिरा गांधी एयरपोर्ट के अलावा एक विकल्प साबित होगा। यहां कार्गो की सुविधा मिलने को लेकर व्यापारी काफी खुश हैं। आसपास के लोगों में रोजगार की उम्मीद भी जगी है। एयरपोर्ट बनने से जेवर में विकास के रास्ते खुलेंगे। साथ ही 150 किलोमीटर के दायरे में बसे शहरों के लिए यह उड़ान का दरवाजा होगा। इसके जरिए शहरों को कारोबार बढ़ाने में सहूलियत मिलेगी। उद्योग-धंधों को भी पनपने के अवसर मिलेंगे, क्योंकि उन्हें कच्चा माल लाने और तैयार माल भेजने में आसानी होगी। इन सबके चलते आसपास के शहरों में रोजगार के अवसर भी बढ़ेंगे। व्यापारियों में उम्मीद जगी

मुजफ्फरनगर, शामली, सहारनपुर, बागपत आदि के व्यापारियों को इससे लाभ की उम्मीद है। आईआईए के प्रदेश महासचिव पंकज गुप्ता और स्पोट्र्स कारोबारी राकेश महाजन का कहना है कि जेवर में एयरपोर्ट बने तो फायदा तो होगा ही लेकिन मेरठ से घरेलू उड़ान शुरू हो जाएं तो चौगुना फायदा होगा। सहारनपुर के वुडकार्विंग उद्योग, मुजफ्फरनगर के स्टील और खांडसारी उद्योग से जुड़े उद्यमियों के अनुसार जेवर का एयरपोर्ट, दिल्ली गुड़गांव के जाम से मुक्ति दिलाएगा।

समय की बचत होगी
बरेली के लोग भी इस फैसले से काफी खुश हैं। उनका कहना है कि जेवर का हवाई अड्डा दिल्ली के भारी ट्रैफिक से मुक्ति दिला देगा। हालांकि, हर किसी को बरेली में हवाई अड्डे का बेसब्री से इंतजार है। चैम्बर ऑफ कॉमर्स के डिवीजनल चेयरमैन दिनेश गोयल ने कहा कि पश्चिमी उत्तर प्रदेश के लिए जेवर हवाई अड्डा नई सौगात साबित होगा। हम लोगों को अभी तक दिल्ली एयरपोर्ट जाने के लिए भारी ट्रैफिक से गुजरना होता है। जेवर एयरपोर्ट के शुरू होने से दो घंटे की बचत होगी।

 
Comment
Comment:
Email ID:
Posted By :
Location:
     
 
अन्य खबरें